मिथिला संग सम्पूर्ण बिहारमे आर्थिक विकासक संग औद्योगिक विकासक लेल सरकार अछि तत्पर : तेजस्वी

[ADINSETER AMP]
  • विशिष्ट योगदानक लेल विभिन्न  विद्वान लोकनि कयल गेलाह सम्मानित

पटना : चेतना समितिक दिससँ पटनामे रविदिन क’ आयोजित 69म विद्यापति स्मृतिपर्व समारोहक उद्घाटन करैत  कहला जे विद्यापति मिथिला आ मैथिलीकेँ प्रतीक छथि। मैथिली भाषा मधुर आ कर्णप्रिय अछि। मिथिला पान, मखान आ मानक लेल सम्पूर्ण विश्वमे विख्यात अछि। एहि अवसरपर बेरोजगारी दूर करबाक हेतु औद्योगिक विकासपर विशेष ध्यान देल जायत। जाति-पातिक राजनीति आब नहि चलत। चेतना समिति द्वारा उठाओल गेल अधियाचना पर यथासाध्य बिहार सरकार प्रयास करत।

[ADINSETER AMP]

एहि अवसर पर राजस्व व भूमि सुधार मंत्री  बिहार सरकार आलोक मेहता आ उद्योग मंत्री समीर कुमार महासेठ सेहो महाकवि विद्यापतिक व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर ध्यान दैत बिहारक औद्योगिक विकास पर विशेष ध्यान देलनि। पूर्व विधायक ऋषि मिश्र आ सचिव  उमेश मिश्र सरकारक सामने महाकवि विद्यापतिक प्रतिमा पटना शहरमे स्थापित करय, प्राथमिक विद्यालय सभमे मैथिलीक पढ़ाइ, मिथिलाके प्रत्येक महत्वपूर्ण जिलामे एजुकेशन हब बनाबय संग राजेन्द्र नगरमे मिथिला भवनक विकास पर विशेष जोर  संग आन माँग रखलनि।

समितिक अध्यक्षा संग अनेक गणमान्य पदाधिकारी लोकनि द्वारा अपन उद्गार व्यक्त कयल गेल। चेतना समितिक स्मारिका एवं वार्षिक कैलेंडरक लोकार्पण उपमुख्यमंत्री जीक गरिमामयी उपस्थितिमे सेहो कयल गेल।

मिथिला आ आन क्षेत्रमे विशेष अवदानक लेल अनेक विभूति लोकनिकेँ सम्मानित कयल गेल। संगहि स्थानीय कलाकारक संग डॉ. रंजना झा द्वारा गायन एकसँ एक विद्यापति गीत,  ब्राह्मण गीत एवं लोक गीत परिसरक गुंजायमान क’  देलक। अन्त मिथिला क्षेत्रक विभिन्न साहित्यिक विधामे  पारंगत श्रेष्ठतम कवि लोकनिक कवि सम्मेलनक संग भेल। जाहिमे तारानन्द वियोगी जीक ओजस्वी मंच संचालन आ जगदीश चन्द्र ठाकुर अनिल जीक तेजोमयी आ शालीन अध्यक्षता छल। त्रीदिवसीय विद्यापति स्मृतिपर्व समारोहक आइ दोसर दिनक कार्यक्रमक उदघाटन मंत्री बिहार सरकार ललित यादव जीक द्वारा कयल गेल। एहि अवसर ओ अपन विचार राखैत ई आश्वासन देलनि जे बिहार सरकार मिथिला आ मैथिलीकेँ विकासक लेल प्रतिबद्ध अछि।

[ADINSETER AMP]

एहि अवसर पर बिहार सरकारक जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा महाकवि विद्यापतिकेँ रचना सभक मौलिकता, लोकप्रियता आ मधुरता वर्णन करैत हुनका लोककविक संज्ञा देलनि। मिथिलामे विकासक लेल कयल जा रहल कार्यक उल्लेख कयलनि तथा मिथिलावासीसँ ई अनुरोध कयलनि जे अपन सांस्कृतिक विरासतकेँ जीवन्त रखबा लेल सदिखन प्रयासरत रही। पूर्व   मंत्री आ विधायक विनोद नारायण झा विद्यापति जीकेँ श्रद्धांजलि अर्पित करैत मिथिलाक प्राचीन संस्कृतिक केन्द्र बतौलनि आ चेतना समिति द्वारा कयल जा रहल सांस्कृतिक कार्यक्रमकें अति महत्वपूर्ण एवं प्रेरणादायक बतौलनि। पूर्व सांसद विजय कुमार मिश्र जी मिथिला वासीकें एकजुट रहबाक  अनुरोध कयलनि।

प्रारंभमे चेतना समितिक सचिव उमेश मिश्र अतिथि सभक स्वागत करैत मिथिला वासीसँ अपन मातृभाषा मैथिलीक अधिकाधिक प्रयोग आ आगामी जनगणनामे मातृभाषाक रुपमे मैथिली लिखेबाक  अनुरोध कयलनि। अनिवार्य रूपसँ मिथिला क्षेत्रमे मैथिलीके माध्यमसँ शिक्षण व्यवस्थाक अनुरोध  सरकारसँ कयलनि। समितिक अध्यक्ष निशा मदन झा सरकारसँ मिथिला भवनक निर्माण हेतु वित्तीय सहायता देमयके माँग कयलनि। संगहि लोक सभसँ अपन घरमे मैथिलीक अधिकतम प्रयोगआ सभ तरहक सरकारी कार्यालयमे मैथिलीमे आवेदन देमयके अनुरोध कयलनि।

एहि अवसरपर विभिन्न विभूतिकेँ शाल, पाग व डोपटासँ सम्मानित कयल गेल।  जाहिमे प्रमुख छथि डॉ.  रत्नेश्वर मिश्र,  भाग्य नारायण झा, पत्रकारिता पुरस्कार,  सुजीत कुमार झा, ज्योत्सना पुरस्कार मेनका मल्लिक, कीति नारायण मिश्र साहित्य सम्मान रोमिशा , डॉ. गणपति मिश्र साहित्य सम्मान: गोपाल झा अभिषेक, पुरातत्व वैज्ञानिक विजय कान्त मिश्र पुरस्कार :  अरुण कुमार झा आदि।

मिलर स्कूलक प्रागंणमे डॉ. रमानाथ रमण जीक अध्यक्षतामे  स्वाधीनताक स्वर आ मैथिली साहित्य विषय पर विचार गोष्ठीक आयोजन कयल गेल। जाहिमे मिथिला क्षेत्रक ख्याति नाम विद्वान लोकनि उपस्थित छलाह।

समारोह स्थलपर आयोजित पुस्तक एवं कला  प्रदर्शनिक उद्घाटन पूर्व सांसद श्री विजय मिश्र जीक द्वारा मिथिला पेंटिंग आ आन  समसामयिक मूल्य पर आधारित 15 स्टालक संग कयल गेल। संध्या समय आजुक कार्यक्रमक विशेष आकर्षण सांस्कृतिक कार्यक्रमक भव्यता व कलात्मकता अतुलनीय रहल।  एहि कार्यक्रममे दिल्लीसँ आयल अवनीन्द्र ठाकुरक टीम संग गोविन्द सरस्वती, श्रीमती पुनम मिश्र (मधुबनी), मधुबनीसँ आयल मिथिलाक लोकनृत्य आ जट- जटिन लोकक भरपूर मनोरंजन प्रदान करौलक। मंच संचालन जयदेव मिश्र आ अरुण कुमार झा जी के द्वारा धन्यवाद ज्ञापित संग कार्यक्रमक समाप्तिक घोषणा कयल गेल।

 4,617 total views

Spread the love
[ADINSETER AMP]
admin:

This website uses cookies.

[ADINSETER AMP]